ग्रीनमैन विरल देसाई की पुस्तक ‘आर्किटेक्ट ऑफ अमृतपथ’ का मुंबई में विमोचन

गरवी गुजरात

राष्ट्रीय अवार्ड विजेता उद्यमी, पर्यावरणविद् और लेखक विरल देसाई की पुस्तक ‘आर्किटेक्ट ऑफ अमृतपथ’ का मुंबई में विमोचन किया गया। 22 से अधिक कॉलेजों का संचालन करने वाली मुंबई की प्रतिष्ठित स्वामी विवेकानंद एजुकेशन सोसाइटी में पुस्तक विमोचन समारोह में शिक्षा जगत के दिग्गजों उपस्थित थे। 

इस मौके पर अपनी खुशी व्यक्त करते हुए विरल देसाई ने कहा कि ‘भारत के इतिहास में जिन दो नरेंद्र ने दुनिया में भारत और भारतीयता का डंका बजाया, वो दोनों नरेंद्र अप्रत्यक्ष रूप से एक ही मंच पर नजर आए हैं, जहां स्वामी विवेकानंद कॉलेज  ‘विवेकानंदजी के विचारों को समर्पित है तो मेरी किताब भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किए गए पर्यावरण संबंधी कार्यों पर आधारित है।

विमोचन अवसर के दौरान विरल देसाई ने अपने वक्तव्य के जरिए कॉलेज के छात्रों को जलवायु एक्शन के क्षेत्र में भारत ने क्या महत्वपूर्ण काम किया है और कैसे भारत जलवायु (क्लाइमेट) एक्शन के क्षेत्र में विश्व गुरु बन गया है, इसके बारे में विस्तार से जानकारी दी। ‘आर्किटेक्ट ऑफ अमृतपथ’ के मुंबई विमोचन के दौरान खेल पत्रकार चिराग दोशी, मुंबई के सबसे लोकप्रिय आरजे जीतूराज, विवेकानंद एजुकेशन सोसाइटी के ट्रस्टी राजेश गेहानी और संस्था के निदेशक सतीश मोढ व विवेकानंद एजुकेशन सोसायटी के अध्यापक ज्योति चांदवानी विशेष रूप से उपस्थित थे।

गौरतलब है कि विरल देसाई की पुस्तक ‘आर्किटेक्ट ऑफ अमृतपथ’ अंग्रेजी और गुजराती दो भाषाओं में एक साथ प्रकाशित हुई थी, जिसे वर्तमान में पर्यावरणविदों और युवाओं से भव्य प्रतिसाद मिल रहा है।