भारत ने रूस में जीता विश्व चैम्पियन का खिताब, ग्रैपलिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में सबसे अधिक मेडल पर किया कब्जा

देश दुनिया

रूस में आयोजित विश्व चैम्पियनशिप में भारत ने 105 पदक जीते

रूस के (मॉस्को) Moscow में  17 से 19 नवंबर तक ग्रैपलिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप (Grappling World Championship) का आयोजन किया था। जिसमें भारत की ग्रैपलिंग टीम  (Grappling Team) ने 105 मेडल जीत कर चैम्पियन का खिताब हासिल किया है। इस प्रतियोगिता में भारत ने 23 गोल्ड,  30 सिल्वर और 52 ब्रॉन्ज मेडल जीत कर रूस को पछाड़कर नंबर वन की ट्रॉफी पर कब्ज़ा किया। 

ग्रैपलिंग (Grappling )कुश्ती का ही एक प्रकार है, जिसमें ज्यादातर रूस ही अव्वल रहता आया है, लेकिन इस बार भारत की टीम ने रूस की टीम को पछाड़कर विश्व कीर्तिमान स्थापित किया है। भारत के 86  खिलाड़ियों ने बहुत दम ख़म और जोश के साथ शानदार प्रदर्शन किया और एक के बाद एक सभी देशों को पछाड़ते हुए चैम्पियन ट्रॉफी जीतने के साथ ही प्रधानमंत्री मोदी जी के सपनों को पूरा किया। भारत से राष्ट्रीय ग्रैपलिंग टीम ( Grappling team ) का नेतृत्व GCI के चेयरमैन श्री दिनेश कपूर जी,  बिरजू शर्मा, विनोद शर्मा विजय सागंवान और सूरत गुजरात की कम्पनी Alliance के चेयरमैन सुभाष डावर ने किया। भारत की टीम में गुजरात की सात महिला खिलाड़ी थी, जिन्होंने शानदार प्रदर्शन किया और 1 गोल्ड,  2 सिल्वर और 4 मॉडल जीते।

खिलाडियों का उत्साह बढ़ाने के के लिए टीम के मॉस्को प्रस्थान से पहले देश के बहुत से जाने माने गणमान्य व्यक्तियों और फिल्म स्टार्स ने खिलाड़ियों को शुभकामनाएं दे कर रवाना किया था। इन महानुभावों में गुजरात के खेल एवं गृह मंत्री हर्ष सघंवी और केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर जी शामिल थे।  इन सब की शुभकामनाओं ने खिलाडियों में एक अलग ही जोश भर दिया और खिलाड़ियों ने वही कर दिखाया जिसकी देश वासियों ने उम्मीद की थी। हमारे देश के लिए बहुत गर्व की बात है कि भले ही हम क्रिकेट में World cup नहीं जीत पाए, लेकिन Grappling में हमने 19 देशों को हरा कर चैंपियन ( Champion ) का क्रिकेट वर्ल्ड कप नहीं जितने की कमी की भरपाई कर दी है।