इंडिया सिल्क एण्ड कॉटन एक्सपो’ में स्पेशल सिल्क सारिस और ब्लॉक प्रिंट कलेक्शन’

व्यक्ति विशेष

महाराजा अग्रसेन भवन में आयोजित प्रदर्शनी में हैंड ब्लॉक प्रिंटिंग कलाकारी की झलक

सूरत. समर सीजन एवं वैवाहिक सीजन के लिए सिल्क साड़ियों की विशाल श्रृंखला लेकर एक बार फिर इंडिया सिल्क एण्ड कॉटन एक्सपो शहर में है। महाराजा अग्रसेन भवन, सिटीलाइट रोड सूरत में यह सेल बुधवार से शुरू हो गई है। 6 दिन के लिए आयोजित यह एग्जीबीशन 19 जून तक जारी रहेगी। शहर के साड़ी लवर्स के लिए सिल्क एण्ड कॉटन फैब खरीददारी का एक शानदार अवसर हैं, जंहा आप विभिन्न राज्यों के बुनकरों से सीधे हेण्डलूम साड़ियां, सूट, कुर्तियां एवं ड्रेस मटेरियल खरीद सकते हैं।

यदि आप पारंपरिक कुर्तियां पसंद करते हैं, तो ब्लॉक प्रिंट कुर्ती डिजाइन आपके वॉर्डरोब में होनी चाहिए क्योंकि इसमें वह ग्रेस है जो आप हमेशा चाहते हैं ।

प्रदर्शनी में आये फैबडस्ट कुर्ती निर्माता राजेश कुमार ने बताया कि हैंड ब्लॉक प्रिंटिंग 300 साल पुरानी तकनीक है। ब्लॉक प्रिंटिंग की प्रक्रिया में एक नक्काशीदार, लकड़ी के ब्लॉक को डाई में डुबोया जाता है और फिर कॉटन फैब्रिक पर हाथ से दबाया जाता है, जिसके लिए बहुत ज्यादा कुशलता और फोकस की ज़रूरत होती है।

राजेश कुमार कहते हैं, हैंड ब्लॉक प्रिंटिंग एक कलात्मक परंपरा है और इसकी सुंदरता, प्रिंट, कपड़े, डिजाइन, जीवंत रंग और फिनिशिंग के कारण सुर्खियों में आई है। हैंड ब्लॉक प्रिंट के पैटर्न में कुछ अनूठा है चाहे वह राजस्थान का लोकप्रिय दाबु प्रिंट हो, जो मड प्रिंटिंग तकनीक का उपयोग करता है, या गुजरात का अजरख, जिसमें ज्यामितीय रूपांकनों की विशेषता है, चाहे मध्य प्रदेश का बाग प्रिंट जिसमे प्राकृतिक रंगों का उपयोग होता है या फिर वैक्स और डाई का उपयोग करके बनाये गए बाटिक प्रिंट हो चाहे अपनी बारीक रेखाओं के संयोजन से बने सांगानेरी प्रिंट हो प्रत्येक ब्लॉक प्रिंट देश की विशाल विरासत और समृद्ध संस्कृति का प्रतीक है।

14 जून से 19 जून तक प्रतिदिन सुबह 11.30 बजे से रात 08.30 बजे तक आयोजित की जा रही सिल्क एण्ड कॉटन एक्सपो में देश के विविध स्थानों की लोकप्रिय वैरायटी की कॉटन एवं सिल्क की मनमोहक साड़ियाँ एवं ड्रेस मटेरियल पेश किए गए हैं। तरह-तरह के डिजायन्स, पैर्टन्स, कलर कॉम्बिनेशन में इन साड़ियों का व्यापक खजाना यहाँ उपलब्ध है। भारतीय संस्कृति संस्थान की ओर से आयोजित इस सेल में देश के विविध प्रांतों की राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर लोकप्रिय वैरायटी का चुनिंदा समर कलेक्शन प्रदर्शित किया गया है। आयोजनकर्ता जितेंद्र कुमार ने बताया इस स्पेशल कलेक्शन में फेब डस्ट के ब्लाक प्रिंट, मलमल प्रिंट के सूट, कुर्ती एवं ड्रेस मटेरियल, जयपुरी ब्लॉक प्रिंट, जयपुरी बेडशीट, एसी शीट, जयपुरी कुर्ती, चिकन एम्ब्रायडरी फैब्रिक, बनारसी सिल्क साड़ियाँ, बिहार से टसर, भागलपुर सिल्क ड्रैस, मटेरियल, राजस्थानी ब्लॉक हैण्डप्रिंट, जयपुरी कुर्ती, ब्लॉक प्रिंट, सांगनेरी प्रिंट, कोटा डोरिया खादी सिल्क एवं उड़ीसा की संबलपुरी कॉटन साड़ियां, ड्रेस
मटेरियल सम्मिलित किए गए है।

आयोजनकर्ता राजेश कुमार ‘ ने बताया “खासकर समर सीजन को देखते हुए महिलाओं द्वारा यहाँ हेण्डलूम कॉटन और सिल्क साड़ियों, सूट, कुर्तियों एवं ड्रेस मटेरियल की खरीदारी की जा रही है। प्रदर्शनी में प्रवेश निशुल्क है तथा यहां सभी डेबिट एवं क्रेडिट कार्ड के माध्यम से पेमेंट की सुविधा है। देश के श्रेष्ठ बुनकर सिल्क एण्ड कॉटन फेब में सिल्क एवं कॉटन साड़ियों, सूट्स, ब्लॉक प्रिंट, जार्जेट साड़ियों, डिजायनर साड़ियों, बनारसी सिल्क साड़ियो के व्यापक संग्रह के साथ उपस्थित हैं। शहर के मुख्य क्षेत्र महाराजा अग्रसेन भवन, वर्धमान महावीर मार्ग, सिटीलाइट टाउन, सूरत पर आयोजित की जा रही सिल्क एण्ड कॉटन एक्सपो में छत्तीसगढ़ से कोसा सिल्क, घिचा सिल्क साड़ी, मलबरी रॉ सिल्क, ब्लॉक प्रिंटेड सिल्क साड़ी, कुर्ती, महेश्वरी सिल्क साड़ी, उत्तरप्रदेश से तनछुई बनारसी, जामदानी, जामावार, ब्रोकेट ड्रेस मटेरियल, लखनवी चिकन, पश्चिम बंगाल से शांति निकेतन कांथा साड़ी, बालुचरी साड़ी, प्रिंटेड साड़ी, ढाकई जामदानी साड़ियाँ की खरीदारी की जा सकती है।

बुधवार को एक्सपो के उद्घाटन अवसर पर पार्षद व्रजेश उनडकट, पूर्व पार्षद और सामाजिक कार्यकर्ता रूपल शाह, इंटरनेशनल बाइक एंड ट्रक राइडर दुरैया तपिया, बीना शाह और विप्रा कलेक्शन की फाउंडर कक्षा अलमौला उपस्थित रहे।